गौरव प्रताप सिंह

"त्वदीयाय कार्याय बद्धा काटीयं…!"